Total Pageviews

Friday, June 11, 2010

कोर कमेटी की बैठक की रूपरेखा.....!


"........मैं ईंट गारे वाले घर का तलबगार नहीं, तू मेरे नाम मुहब्बत का एक घर कर दे !.................."

कन्हैया लाल नंदन

"सिंह सदन" के लिए यह मुकम्मल शेर है. रिश्ते सिर्फ संबोधन के लिए ही नहीं होते.....वे दरअसल जीने के लिए होते है......हर आदमी कभी किसी देहलीज़ पर भाई है तो किसी दर पर पति....हर औरत कहीं बहन है तो कहीं माँ......इन्ही रिश्तों में रची बसी कायनात को एक छत के अन्दर जिए जाने की कवायद ही है घर......."सिंह सदन" भी इसी कवायद का एक हिस्सा है........."सिंह सदन " से जुड़े हर एक शख्स और हर एक गतिविधि से परिचय करने के लिए ही ब्लॉग का सहारा लिया गया है ताकि जो भी लिखा जाए वो दिल से लिखा जाये.....और दिल से ही पढ़ा भी जाए.......!
इसी उन्वान के साथ हम सबने इस ब्लॉग की नींव रखी थी......महज 2 महीने में 50 से अधिक पोस्ट लिख कर इस ब्लॉग पर लेखन सक्रियता की अद्भुत मिसाल देखी जा सकती है......''जश्न ए गोल्डन जुबली'' का काउंट डाउन भी शरू हो चुका है......मैं पंकज को उनकी रोचक लेखन शैली के लिए, पिंटू को उनके तकनीकी श्रम, जोनी को पोस्ट लिखने में सक्रिय प्रकट सहयोग के लिए दिल से आभार प्रकट करता हूँ.....समस्त सदस्यों ने जिन्होंने बेशक लिखने में अभी कदम नहीं बढ़ाये हैं मगर पढने में पूरी दिलचस्पी ले रहे हैं उनका भी धनयवाद प्रकट करता हूँ.
''जश्न ए गोल्डन जुबली'' में ब्लॉग कोर कमेटी की बैठक भी होनी है......बैठक में कुछ नए प्रस्ताव पारित होने की उम्मीद है......समस्त आमंत्रित सदस्य अपने प्रस्ताव लेकर आयें ताकि विचार हो सके। ब्लॉग में क्या परिवर्तन किये जा सकते हैं इस पर चर्चा होगी.


''जश्न ए गोल्डन जुबली'' में कोर कमेटी की मीटिंग में निम्न विषयों पर प्रस्ताव रखे जायेंगे-


1.स्वागत भाषण व रुपरेखा - द्वारा पंकज सिंह (संयोजक ''जश्न ए गोल्डन जुबली'' )
2.अध्यक्ष का सर्वसम्मति से चुनाव.
3.ब्लॉग पर अब तक का सफ़र पर चर्चा- पंकज सिंह, पिंटू, अंजू, हृदेश ,श्यामकांत !
4. पहले पचास पोस्टों पर विश्लेष्णात्मक टिप्पणी - पवन कुमार, पंकज सिंह
5.सुझाव व सलाह - समस्त सदस्य
6. सम्मान समारोह - जोनी
7.अध्यक्ष की अनुमति से किसी विषय पर विचार
8. धन्यवाद प्रस्ताव- संपादक ब्लॉग हृदेश कुमार


संयोजक- पंकज सिंह तथा संचालक- जोनी होंगे। समारोह की सम्पूर्ण व्यवस्था श्यामकांत और डॉ रमण के हाथों में रहेगी। बैठक की कार्यवाही दिलीप द्वारा नोट की जायेगी और पोस्ट के रूप में कार्यक्रम संयोजक पंकज सिंह से अनुमोदित करा कर ब्लॉग पर डाली जायेगी।


***** पकु

3 comments:

psingh said...

भैया
बहुत अच्छा प्रारु तैयार किया अपने
मगर किसी रोचक गेम की कमी रह गयी
क्रप्या इस पर ध्यान दें |
पोस्ट के लिए बहुत बहुत आभार ............

ShyamKant said...

अध्यक्ष पद विशेष दायित्व से युक्त हो ताकि वह सिंह सदन के समस्त सदस्यों के मध्य समन्वय करे ...
यद्दपि ये भूमिका चुनोतिपूर्ण है, किन्तु इस भूमिका को अध्यक्ष पद से जोड़ना महत्वपूर्ण है, बड़े भाई पंकज सिंह इस माह के लिए अध्यक्ष चुने जाएँ तो बेहतर होगा .
ध्यातव्य रहे अध्यक्ष पद मासिक आधार पर चुना जाये. ताकि इस भूमिका में जिन सदस्यों को चुना जाये वे अपने उद्देशों को बेहतर तरीके से निष्पादित कर सके.
धन्यवाद
श्यामकांत

SINGHSADAN said...

proposal of shyamkant is really worth appreciate