Total Pageviews

Friday, December 17, 2010

"जानशीं" ..आने का जश्न !


सिंह सदन को एक और नया "जानशीन" मिल गया है... इनका नाम मैं चाह कर भी आपको नहीं बता सकता ...क्योंकि अभी यह तय नहीं है ! "कोर कमेटी" की अगली वार्षिक बैठक में इस बहुप्रतीक्षित नाम की घोषणा कर दी जाएगी ..... तब तक जो मन चाहे बुलाइए ...और मज़ा लीजिये !

जोनी और प्रिया को बधाई.... उन्हें इस बात की सराहना मिलनी चाहिए कि उन्होंने "सिंह सदन" को एक सरस्वती दी! यह भी एक सुखद संयोग ही है कि १४ दिसंबर को अब सिंह सदन में दो परियों के आगमन के रूप में मनाया जायेगा ! दोहरी खुशियों का प्रतीक होगा ...अब १४ दिसंबर !

सिंह सदन सदस्यों के लिए एक टास्क भी आ गया ....सभी को तीन दिन के भीतर ५-५ अच्छे अर्थपूर्ण नाम सुझाने हैं... ताकि जानशीन को एक भाग्यशाली नाम दिया जा सके ...तो लग जाइये और कुछ बेहतरीन सार्थक - सुन्दर नाम पेश कीजिये ! जिसका नाम अंतिम रूप से चुना जायेगा ...उसे मिलेगा मनचाहा पुरस्कार... पुन: बधाई !!

*****PANKAJ K. SINGH

2 comments:

psingh said...

bahut khub bhaiya
accha kam diya hai .........
to sbhi log jut jaiye
nam ke mayne bhi batan padega
koi bhi nam nahi chalega
aur bhiya apko to ......
badhiyan hi badhiyan........
mubarkan............

SINGHSADAN said...

भाई क्या खूब लिखा है टास्क अच्छा है..... यूथ ब्रिगेड को मौका मिले. मैं तो यही कहूँगा कि कोई भी नाम रखो.....शुरुआत अ, आ, इ, ई से हो तो बेहतर होगा...... जैसे-अन्विता...!!!
PK